jai hanuman

धन छोड़ा , दोलत छोड़ा ,छोड़ा सारा जमाना , बजरंग तेरे प्यार में हो गया में दीवाना |

Read More

Jai mata di

कही कांटो भरा जीवन गुजार रहा होता, दर्द के गीत विरानो में गा रहा था, मिलता नही सहारा माँ तेरे आँचल का, तो कई दर दर की ठोकर खा रहा होता |

Read More